Ishan Kishan:  BCCI के आदेश की अनदेखी के बाद क्या Ishan Kishan का आईपीएल में खेलना हो सकता है मुश्किल?

Ishan Kishan
Ishan Kishan

Ishan Kishan:  टीम इंडिया के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन इन दिनों टीम से जरूर बाहर हैं, लेकिन सबसे ज्यादा चर्चा बटोर रहे हैं। झारखंड के विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन की मुश्किलें थमती नहीं दिख रही है। एक तरफ तो खुद ने टीम इंडिया से दूरी बना ली, जिसके बाद वापसी नहीं हो रही है, तो दूसरी तरफ वो बोर्ड के आदेश की लगातार अवहेलना करते जा रहे हैं। बीसीसीआई के सख्त निर्देश के बावजूद भी एक बार फिर से उन्होंने बोर्ड के इस निर्देश की अनदेखी की है, जिसके बाद अब वो और भी ज्यादा मुश्किलों में घिर सकते हैं।

ईशान किशन ने एक बार फिर से की बीसीसीआई के निर्देश की अनदेखी

ईशान किशन ने बीसीसीआई के लाख कहने के बाद भी फिर से रणजी ट्रॉफी में झारखंड के लिए खेलने को नहीं उतरे। दक्षिण अफ्रीका के दौरे से ईशान किशन ने अपना नाम वापस ले लिया था। इसके बाद से वो लगातार बोर्ड के निर्देश को नजरअंदाज करते जा रहे हैं। बोर्ड ने उन्हें साफ कहा था कि वो रणजी मैचों में खेले और अपने आपको टीम में चयन के लिए साबित करें। लेकिन बोर्ड के उस आदेश को ईशान किशन ने एक बार फिर से नजरअंदाज कर दिया और वो रणजी ट्रॉफी के अंतिम दौर के मैचों में भी नहीं खेल रहे हैं।

Ishan Kishan
Ishan Kishan

ये भी पढ़े-Team India Announce: इंग्लैंड सीरीज के पहले 2 टेस्ट के लिए Team India की घोषणा, ईशान किशन की जगह ध्रुव जुरेल की सरप्राइज एन्ट्री, देखे पूरा Squad

लगातार कहने पर भी नहीं खेल रहे हैं रणजी मैच

ईशान किशन को साफ तौर पर निर्देश मिले थे कि वो रणजी ट्रॉफी के मैच खेले, लेकिन वो ना तो अपनी भारतीय क्रिकेट टीम में अपनी उपलब्धता साबित कर रहे हैं और ना ही वो इसे लेकर कोई जवाब दे रहे हैं। एक मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बोर्ड घरेलू क्रिकेट को लेकर नियम ला रहा है कि जो भी भारतीय टीम से बाहर होगा, उसे कम से कम 3-4 रणजी मैच खेलने होंगे। लेकिन ईशान किशन ने बोर्ड के नियम को दरकिनार करते हुए पिछले ही दिनों उन्हें बड़ौदा में उनकी आईपीएल टीम के कप्तान हार्दिक पंड्या के साथ प्रैक्टिस करने चले गए इससे बोर्ड काफी नाराज बताया जा रहा है।

घरेलू क्रिकेट खेलने को राहुल द्रविड़ ने भी बताया था जरूरी

भारतीय टीम के दक्षिण अफ्रीका के दौरे से ही उन्होंने मानसिक तनाव की बात कहकर ब्रेक लिया। इस ब्रेक के बाद उनकी अब तक वापसी नहीं हो सकी है। टीम इंडिया इसके बाद अफगानिस्तान के खिलाफ टी20 सीरीज खेली, जिसमें उन्हें नहीं चुना गया, तो इंग्लैंड से खेली जा रही टेस्ट सीरीज में भी उन्हें जगह नहीं मिली। राहुल द्रविड़ ने उन्हें साफ तौर पर कहा था कि वापसी के लिए घरेलू क्रिकेट खेलना जरूरी है, लेकिन फिर भी किशन किसी की बात नहीं मान रहे हैं। वो अब अपने रवैये से बोर्ड को बहुत ही ज्यादा नाराज कर चुके हैं।

आईपीएल और टी20 वर्ल्ड कप तक खेलना हो सकता है मुश्किल

बीसीसीआई की इसी नाराजगी के चलते ईशान किशन को एक भारी किमत चुकानी पड़ सकती है। जय शाह ने साफ तौर पर कहा था कि जो खिलाड़ी भारतीय टीम से दूर हैं, और वो फिट है तो उसे रणजी ट्रॉफी में खेलना होगा। ईशान किशन झारखंड की टीम से रणजी खेलते हैं, लेकिन वो अब तक इस सीजन कोई भी मैच खेलने नहीं उतरे हैं। ऐसे में उन्हें लगातार बोर्ड की बात को नजरअंदाज करने के लिए बड़ी कार्रवायी का सामना करना पड़ सकता है। जहां आईपीएल से लेकर टी20 वर्ल्ड कप में भी खेलना मुश्किल हो सकता है।